महेंद्र सिंह धोनी, विराट कोहली, रोहित शर्मा और शाहरुख को मिली राहत, हाईकोर्ट ने कहा- पैसा कमाना क्रिकेटरों-कलाकारों का पेशा, उन्हें ऐसा करने से रोका नहीं जा सकता

Madhya Pradesh news : बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता शाहरुख खान, टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी, विराट कोहली और कप्तान रोहित शर्मा को मध्य प्रदेश हाईकोर्ट की  इंदौर खंडपीठ ने बड़ी राहत देते हुए उनके आनलाइन गेम के विज्ञापन में काम करने पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है। कोर्ट ने कहा है कि प्रदेश में आनलाइन गेम पर कोई रोक नहीं है। ऐसे में इन लोगों को आनलाइन गेम का विज्ञापन करने से रोका नहीं जा सकता। वे विज्ञापन कर सकते हैं, क्योंकि पैसा कमाना उनका पेशा है।

अधिवक्ता विनोद कुमार ने दायर की थी याचिका

गौरतलब है कि अधिवक्ता विनोद कुमार द्विवेदी ने इंदौर खंडपीठ में एक जनहित याचिका दायर की थी। इसमें कहा गया था कि महेंद्र सिंह धोनी, रोहित शर्मा, विराट कोहली और शाहरुख खान जैसे लोग लाखों युवाओं के आदर्श हैं। लाखों युवा आंख मूंदकर इनकी बातों पर यकीन करते हैं। ऐसे में ये सेलिब्रिटीज आनलाइन गेम के जरिए सट्टा-जुआ खेलने को प्रेरित कर रहे हैं। विज्ञापन में क्रिकेटर और फिल्मी सितारे युवाओं को बता रहे हैं कि आनलाइन सट्टा खेलकर कैसे करोड़ों रुपये कमाए जा सकते हैं। इनकी बातों में आकर युवा स्वयं का भविष्य बिगड़ रहे हैं। सट्टे की लत के चलते कई युवा आत्महत्या जैसा कदम भी उठा चुके हैं।

लाखों रुपए हारने पर युवक ने कर ली थी आत्महत्या

अधिवक्ता ने अपनी याचिका में खरगोन के एक युवा का जिक्र भी किया गया था। बताया गया था कि आनलाइन गेम में लाखों रुपये गंवाने के बाद एक युवक ने आत्महत्या कर ली थी। उस युवा ने सुसाइड नोट में ऑनलाइन सट्टा का उल्लेख भी किया था। याचिका में यह भी कहा गया था कि बिहार, तेलंगाना, कर्नाटक सहित कई राज्य इस तरह के आनलाइन खेलों पर रोक लगा चुके हैं, लेकिन मध्य प्रदेश में अब तक ऐसी कोई कार्रवाई नहीं की गई। याचिका में मांग की गई थी कि क्रिकेटरों और फिल्मी सितारों को आनलाइन गेम के विज्ञापन करने से रोका जाए।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *