पहले लगी भीषण आग, फिर हेवी ब्लास्ट, चपेट में आकर 43 लोगों की गई जान, 500 से अधिक बताए जा रहे घायल

Bangladesh (बांग्लादेश) के चटगांव जिले में एक निजी कंटेनर डिपो में अचानक भीषण आग लग गई। इसके बाद हुए विस्फोट में 7 दमकलकर्मियों सहित कुल 43 लोगों की जान चली गई। 500 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं। इनमें 10 पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। प्रधानमंत्री शेख हसीना, राष्ट्रपति अब्दुल हमीद और संसद अध्यक्ष ने मौतों पर शोक व्यक्त किया है।

एक कंटेनर से दूसरे कंटेनर में फैलती गई आग

अधिकारियों ने बताया कि शनिवार रात करीब साढ़े दस बजे सीताकुंडा में नीदरलैंड व बांग्लादेश संयुक्त उद्यम कंपनी बीएम कंटेनर डिपो लिमिटेड में आग लग गई। आग लगने के 40 मिनट के भीतर ही एक बड़ा धमाका हुआ और विस्फोटक रसायनों की मौजूदगी के कारण आग एक कंटेनर से दूसरे कंटेनर में फैल गई।

मृतकों में 15 की हो सकी है पहचान

 अग्निशमन सेवा के महानिदेशक ने कहा कि चूंकि आग अभी भी भड़की हुई है, जिसे पूरी तरह से बुझने में 24 घंटे और लग सकते हैं, इसलिए डिपो के पास जाना संभव नहीं है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि अब तक मृतकों में से 15 की पहचान कर ली गई है।

50 एंबुलेंस मौके पर तैयार

चटगांव अग्निशमन सेवा और नागरिक सुरक्षा के सहायक निदेशक मोहम्मद फारुक हुसैन सिकदर ने बताया कि आग बुझाने के लिए लगभग 29 अग्निशमन इकाइयां काम कर रही हैं और 50 एम्बुलेंस मौके पर तैयार हैं। डिपो से करीब 21 किलोमीटर दूर चटगांव मेडिकल कॉलेज अस्पताल (सीएमसीएच) में आईसीयू बेड पहले से ही भरे हुए हैं, जबकि संकट की स्थिति में डॉक्टरों की छुट्टी रद्द कर दी गई है। घायलों को सीएमसीएच और संयुक्त सैन्य अस्पताल (सीएमएच) समेत विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.