|

Failure of Modinomics : विदेशी मुद्रा भंडार लगातार आठवें सप्ताह घटा, India टॉप 5 की List से बाहर,अब …

India (भारत) का फॉरेन करेंसी रिजर्व यानी विदेशी मुद्रा भंडार (FCR) एक बार फिर घट गया है। यह लगातार (Continuous) आठवां हफ्ता है, जब इसमें गिरावट दर्ज हुई है। इस गिरावट में सबसे ज्यादा कमी फॉरेन करेंसी असेट (एफसी) में दर्ज की गई है। इस गिरावट के बाद विदेशी मुद्रा भंडार 23 सितंबर 2022 को खत्म हुए हफ्ते के दौरान 8.134 अरब डॉलर घट गया है। अगस्त 2020 के बाद यह विदेशी मुद्रा भंडार का न्यूनतम (Minium) स्तर है। इस हफ्ते दर्ज हुई गिरावट के बाद भारत अब दुनिया के टॉप 5 विदेशी मुद्रा भंडार वाले देश की सूची (List) से बाहर हो गया है।

देशहित में मजबूत विदेशी मुद्रा भंडार 

जिस देश के पास मजबूत विदेशी मुद्रा भंडार होता है, उस देश की आर्थिक स्थिति भी अच्छी मानी जाती है। ऐसा इसलिए होता है कि अगर दुनिया में कोई दिक्कत आ जाए तो देश अपनी जरूरत का सामान कई माह तक आसानी से मंगा सकता है। इसीलिए दुनिया के बहुत से देश अपने विदेशी मुद्रा भंडार को काफी मजबूत बना कर रखते हैं। विदेशी मुद्रा भंडार में निर्यात के अलावा विदेशी निवेश से डॉलर या अन्य विदेशी मुद्रा आती है। इसके अलावा भारत लोग जो विदेश में काम करते हैं, उनकी तरफ से भेजी गई विदेशी मुद्रा भी बड़ा स्रोत होती है।

अब India में इतना बचा है विदेशी मुद्रा भंडार 

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार 23 सितंबर 2022 को खत्म हुए हफ्ते के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 8.134 अरब डॉलर कम होकर 537.518 अरब डॉलर के स्तर पर आ गया है। इससे पहले बीते 16 सितंबर 2022 को विदेशी मुद्रा भंडार 5.22 अरब डॉलर कम होकर 545 अरब डॉलर बचा था।

दुनिया के टॉप 6 देश 

  1. चीन 3.22 ट्रिलियन डॉलर 
  2. जापान 1.29 ट्रिलियन डॉलर 
  3. स्विट्जरलैंड 961,372 बिलियन डॉलर 
  4. रूस 549,700 बिलियन डॉलर 
  5. ताइवान 545,480 बिलियन डालर 
  6. भारत 537,518 बिलियन डॉलर

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *