|

Good news : झारखंड में 3000 कालेज शिक्षकों की नियुक्ति का मार्ग प्रशस्त, अब यूनिवर्सिटी को यूनिट मान तय होगा आरक्षण

Ranchi Jharkhand news : झारखंड के महाविद्यालयों (college)  में अब यूनिवर्सिटी (University) को यूनिट (unit)  मानकर शिक्षकों की नियुक्ति होगी। विश्वविद्यालय को ही यूनिट मानकर आरक्षण तय होगा। विधानसभा के मानसून सत्र में लाए गए झारखंड राज्य विश्वविद्यालय (संशोधन) विधेयक, 2022 में इसका प्रावधान किया गया है। राज्यपाल रमेश बैस (governor Ramesh bais) ने इसपर अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है। इसी के साथ यह संशोधन विधेयक अधिसूचित होकर लागू हो गया है। अभी तक कालेज शिक्षकों की नियुक्ति में विषयवार आरक्षण रोस्टर (reservation roster)  का निर्माण किया जाता था तथा इसी के अनुरूप नियुक्ति होती थी। यह संशोधन यूजीसी (UGC) के दिशा-निर्देश पर किया गया है। इस संशोधन विधेयक की स्वीकृति मिलने के साथ ही झारखंड के विभिन्न विश्वविद्यालयों (Universities) में करीब 3000 कालेज शिक्षकों की नियुक्ति का रास्ता साफ हो गया है। संशोधित प्रविधान के अनुसार कालेज शिक्षकों की नियुक्ति के लिए झारखंड पात्रता परीक्षा (जेट), राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट), जूनियर रिसर्च फेलो (जेआरएफ) और पीएचडी में से किसी एक में उत्तीर्ण होना अनिवार्य होगा। 

हर साल आयोजित होगी जेट परीक्षा 

महाविद्यालय (college)  शिक्षकों की नियुक्ति झारखंड लोक सेवा आयोग द्वारा साक्षात्कार (interview) से की जाएगी। आयोग इसके लिए मेधा सूची तैयार करेगा, जो एक वर्ष के लिए वैध होगी। मेधा सूची में रिक्तियों के दोगुना अभ्यर्थियों को शामिल किया जाएगा। हालांकि, आयोग संबंधित विश्वविद्यालय को प्रत्येक पद के लिए एक नाम की ही अनुशंसा नियुक्ति के लिए करेगा। कालेज शिक्षकों की नियुक्ति के लिए झारखंड लोक सेवा आयोग अब प्रत्येक वर्ष झारखंड पात्रता परीक्षा (जेट) का आयोजन करेगा। 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *