यदि आप बच्चे के माता-पिता हैं तो जरूर पढ़ें यह खबर, महिला ने अपने बेटे के साथ पढ़ने वाले छात्र को जूस में जहर मिलाकर पिला दिया और ले ली मासूम की जान

PONDICHERRY CRIME NEWS : पुडुचेरी के कराईकल इलाके से हैरान कर देने वाली खबर आ रही है।  यहां अपने बच्चे के साथ पढ़ने वाले छात्र को मां ने जूस में  जहर मिलाकर पिला दिया। इससे छात्र की मौत हो गई। इस घटना के बाद छात्र के घर में मातम छा गया है। बता दें कि कराईकल के एक निजी स्कूल में 8वीं कक्षा के छात्र की जहर पीने के कारण इलाज के दौरान मौत हो गई।

मां से बच्चा बोला- गार्ड अंकल ने पीने को दिया था जूस

मृत छात्र की मां ने बताया कि उनका बेटा स्कूल के वार्षिक दिवस समारोह की रिहर्सल में हिस्सा लेने के बाद जब घर वापस आया तो वह बहुत थका- थका लग रहा था। जब उन्होंने बच्चे से पूछा कि ऐसी हालत तुम्हारी क्यों हो रही है तो उसने बताया कि स्कूल के गार्ड अंकल ने उसे पीने के लिए जूस दिया था। जूस पीने के बाद से मुझे ठीक नहीं लग रहा है। शाम होते- होते बच्चे की तबीयत बहुत ज्यादा बिगड़ गई। आनन-फानन में घरवालों ने उसे कराई कल के एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। लेकिन इलाज के दौरान बच्चे की मौत हो गई। डॉक्टरों ने बच्चे के परिजनों को बताया कि बच्चे की मौत जहर पीने के कारण हुई है। यह बात सुनकर बच्चे के घर वाले अचरज में पड़ गए।

चौकीदार के हाथों महिला ने पिलाया बच्चे को जहर

बच्चे की मौत के बाद उसके परिवार के लोगों ने स्कूल के चौकीदार को पकड़ा। उसे बताया गया कि तुमने बच्चे को जूस में जहर देकर क्यों पिलाया। यह बात सुनते ही गार्ड आश्चर्य में पड़ गया। उसने मृत बच्चे के परिजनों को बताया कि एक महिला मेरे पास आई थी और उसने जूस की दो बोतल मुझे दे दी। महिला ने कहा कि यह बच्चे के घर से आया है। आप जाकर उस बच्चे को यह दे दो। इसके बाद मैंने उस बच्चे को जाकर जूस की बोतल दे दी। यह बात सुनकर बच्चे के परिजनों के होश उड़ गए। अब वे उस महिला की खोज में जुट गए जिसने गार्ड को जूस लाकर दिया था।

सीसीटीवी से खुला बच्चे की हत्या का रहस्य

चौकीदार द्वारा कहीं गई बात पर जब स्कूल के बाहर लगे सीसीटीवी को खंगाला गया तो उसमें एक महिला चौकीदार को जूस की बोतलें थमाती स्पष्ट रूप से नजर आई। महिला की पहचान सगयारानी विक्टोरिया के रूप में हुई, जो मृतक बच्चे की कक्षा में पढ़ने वाले छात्र की मां थी। इसके बाद मृतक बच्चे के परिवार ने इस मामले की सूचना पुलिस को दी। न्याय पाने के लिए मृतक का परिवार और उनसे रिश्तेदारों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। इसके बाद आरोपित महिला सगयारानी विक्टोरिया को पुलिस ने हिरासत में लिया। पूछताछ के दौरान सगयारानी विक्टोरिया ने बच्चे को जहर मिलाकर जूस देने की बात स्वीकार किया। आरोपी महिला ने कहा कि उसके बेटे और मृतक बच्चे के बीच क्लास में अच्छी रैंक लाने और दूसरी बातों को लेकर हमेशा झगड़ा होता रहता था। इसलिए उसने चौकीदार के हाथों अपने बेटे के सहपाठी को जहर दिलवा दिया।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *